वर्ष है 2095! 1977 में ‘गोल्डन रिकॉर्ड’ के साथ छोड़े गये वायेजर 1 को किसी ने ढूंढ लिया है. और उन्होंने वापस धरती पर संदेश भेजा है.

लाइट से तेज़ चलने वाले नये स्पेसशिप ‘अंतरिक्ष’ में कैप्टन अनारा धरती के सबसे नज़दीकी सितारे – प्रॉक्सिमा सेंटौरी – पर जाती है, जहाँ से यह संदेश आया है. उसके क्रू में लेफ्टिनेंट मनीषा जैसे नौसिखियों से लेकर कमांडर रायन जैसे धुरंधर मौजूद हैं. लेकिन एलियनों से मिल पाने से पहले ही उसके शिप पर अजीबोगरीब घटनाएँ होने लगती हैं. दुनिया का सबसे आधुनिक तरीके से प्रोग्राम किया गया उसका ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस’ उससे बातें छुपाने लगा है और बिना किसी वजह के उसके शिप पर रेडिएशन फ़ैल रहा है, जिससे मिशन खतरे में पड़ गया है.

प्रॉक्सिमा बी पर उन्हें जो मिलता है, उसके असर की गूँज धरती को अकल्पनीय खतरे में डालते हुए इस पहली यात्रा के कहीं बाद तक भी सुनाई देती रहती है. और तब जाकर अनारा को पता चलता है वह रहस्य, जो वायेजर 1 को बनाने वालों ने उसमें छुपाया था!!